तर्क को ही भावना का वकील बनना पड़ेगा
blog-image.jpeg